BJP नेता बीसी खंडूरी के बेटे मनीष खंडूरी ने थामा कांग्रेस का हाथ - social Gyan

Post Top Ad

Responsive Ads Here

BJP नेता बीसी खंडूरी के बेटे मनीष खंडूरी ने थामा कांग्रेस का हाथ

Share This
उत्तराखंड की पौड़ी सीट से लोकसभा सांसद और वरिष्ठ बीजेपी नेता भुवन चंद्र खंडूरी के बेटे मनीष खंडूरी शनिवार को देहरादून में हो रही राहुल गांधी की जनसभा के दौरान कांग्रेस में शामिल हो गए. मनीष के कांग्रेस में शामिल होने के बाद पिछले कई दिनों से उनके पार्टी में शामिल होने की अटकलों पर विराम लग गया है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंच पर उनका पार्टी में स्वागत किया और उनके आने पर खुशी जाहिर की. मनीष के पिता की ईमानदारी, सच्चाई और कर्मठता की तारीफ करते हुए गांधी ने कहा कि आज उन्हें इस बात की बहुत खुशी है कि खंडूरी जी (मनीष) यहां बैठे हैं. उन्होंने मनीष को आगे बुलाया और जनता से उनका परिचय कराते हुए कहा, ‘इनके पिता को तो आप अच्छी तरह से जानते ही हैं.’ कांग्रेस अध्यक्ष ने मनीष के अपनी पार्टी में आने का कारण भी जनता से साझा किया और कहा कि अपनी पूरी जिंदगी सेना और देश की रक्षा के लिए देने वाले भुवनचंद्र खंडूरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केवल इसलिए संसद की रक्षा समिति के अध्यक्ष पद से हटा दिया क्योंकि उन्होंने सरकार से यह कहा था कि सेना के पास न तो उपयुक्त हथियार हैं और न ही उसकी तैयारी ठीक है. गांधी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी ने सवाल उठाने वाले एक सच्चे देशभक्त को समिति के अध्यक्ष पद से हटा दिया. उन्होंने कहा कि मोदी और बीजेपी में सच्चाई के लिए कोई जगह नहीं है. Rahul Gandhi in Dehradun: He (BC Khanduri) gave all his life to Army. But when he asked a question on national security in Parliament & spoke the truth that the way govt should help Army, it is not there, then he was removed from the Chairmanship of that Committee. pic.twitter.com/db1DOBTxqr — ANI (@ANI) March 16, 2019 पूर्व मुख्यमंत्री और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव हरीश रावत ने भी मनीष खंडूरी का पार्टी में स्वागत करते हुए कहा कि एक उम्रदराज नेता होने के नाते वह (मनीष) उनके लिए भतीजे के समान हैं और वह उन्हें आशीर्वाद देते है. मनीष खंडूरी ने कहा कि वह कांग्रेस में शामिल होकर अच्छा महसूस कर रहे हैं और वह पार्टी की मजबूती के लिए काम करेंगे.


from Latest News राजनीति Firstpost Hindi
आगे पढ़े -फर्स्टपोस्ट

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here