बिहार: दिल दहलाने वाली घटना आया सामने, नाबालिग लड़की की गला काटकर हत्या - social Gyan

Post Top Ad

Responsive Ads Here

बिहार: दिल दहलाने वाली घटना आया सामने, नाबालिग लड़की की गला काटकर हत्या

Share This

पटना। बिहार में सरकार और प्रशासन के तमाम दावों के बाद ङी अपराधों पर लगाम नहीं लग पा रहा है। दरअसल बिहार के गया से एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। अपराधियों ने 16 वर्षीय एक नाबालिग लड़की की गला काटकर हत्या कर की और फिर पहचान छुपाने के लिए एसिट से उसके चहरे को जला दिया। इस हैवानियत भरे हिंसा के बाद पूरे इलाके में भय का माहौल है।

बिहार: पति से तंग आकर महिला ने उठाया खौफनाक कदम, 3 मासूमों को शौचालय की टंकी में फेंककर मारा

क्या है पूरा मामला

आपको बता दें कि 28 दिसंबर को मृत लड़की गायब हो गई थी। जब लड़की नहीं मिली तो परिवार वाले पुलिस के पास पहुंचे लेकिन पुलिस ने चार-पांच दिनों तक मामला दर्ज नहीं किया। फिर 6 जनवरी को लड़की के शव बरामद हुआ। लड़की के शव को देखकर ऐसा प्रतीत हुआ कि उसकी हत्या बहुत ही क्रूरता पूर्वक किया गया। परिवार वालों ने आरोप लगयाा कि लड़की के साथ पहले रेप किया गया फिर उसकी हत्या की गई। लेकिन पुलिस का कहना है कि यह ऑनर किलिंग का मामला है। इस घटना के बाद पूरे इलाके में तनाव का माहौल है। लोग अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। बुधवार को लोग मोमबती लेकर सड़क पर भी उतरे और पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया। लोगों का कहना है कि लड़की की हत्या बहुत ही क्रूरता के साथ हत्या की गई लेकिन पुलिस इसे हल्के में ले रही है। लोगों का यह भी कहना है कि पहले लड़की हत्या की गई और उसकी पहचान छुपाने के लिए चेहरे पर एसिड डाल दिया गया। फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और रिपोर्ट आने के बाद ही साफ हो पाएगा कि लड़की के साथ क्या हुआ था। बता कि दूसरी तरफ वजीरगंज कैंप के डीएसपी का कहना है कि पीड़ित परिवार जांच में सहयोग नहीं कर रहा है। क्योंकि मृत लड़की की बहनों का दावा है कि 31 दिसंबर को वह घर लौटी थी, लेकिन उसके माता-पिता इस बात से इनकार कर रहे हैं। अब जांच के बाद ही सत्य सामने आएगा। फिलहाल इस मामले में किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हुई है।

 

Read the Latest Crime news in hindi on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Crime samachar पत्रिका डॉट कॉम पर.




from Patrika : India's Leading Hindi News Portal
आगे पढ़े ----पत्रिका

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here