जानें क्या बेवजह थकान इकट्ठी करते हैं आप ? - social Gyan

Post Top Ad

Responsive Ads Here

जानें क्या बेवजह थकान इकट्ठी करते हैं आप ?

Share This

काम के बाद थकान होना स्वाभाविक है जिसका सीधा असर सेहत पर दिखता है। नीचे दिए सवालों के जवाब देकर खुद ही परख लीजिए कि कहीं आप भी थकान प्रेमी तो नहीं।

1. आपके लिए थकान एक सामान्य समस्या है, आप इसे बहुत ज्यादा गंभीर नहीं मानते
अ: सहमत

ब: असहमत

2. आपका काम और जिम्मेदारियां ही कुछ ऐसी हैं कि थकान से बचा नहीं जा सकता।
अ: सहमत

ब: असहमत

3. अपने काम से आपको थकान न हो तो लगता है कि उस दिन कुछ ठीक किया ही नहीं।
अ: सहमत

ब: असहमत

4. आपकी थकान तन से ज्यादा मन की है क्योंकि आप हर छोटे-बड़े मसले पर बहुत ज्यादा ही सोचते हैं।
अ: सहमत

ब: असहमत

5. आपकी सेहत पर थकान का असर दिखने लगा है फिर भी आप उसे नजरअंदाज करते हैं।
अ: सहमत

ब: असहमत

6. आप अनावश्यक बातों, बहस व कामों में समय बर्बाद करते हैं जिससे सही काम से भी थकान बढ़ती है।
अ: सहमत

ब: असहमत

7. लोगों के बीच आपकी छवि एक सुस्त, थके हुए और आलसी इंसान की है।
अ: सहमत

ब: असहमत

8. थकान से परेशान होकर आप खुद को जगाने के ऐसे उपाय करते हैं जो उल्टा सेहत को नुकसान पहुंचाते हैं।
अ: सहमत

ब: असहमत

9. आप मानते हैं कि थकान की बड़ी वजह काम नहीं, आपकी स्वयं की खराब हो रही आदते हैं।
अ: सहमत

ब: असहमत

स्कोर और एनालिसिस -
आप 'थकानप्रेमी' है : यदि आप 7 या उससे ज्यादा सवालों से सहमत हैं तो ऐसा लगता है कि आपको सचमुच बेवजह की थकान पसंद है, फिर भले ही उसका कोई उचित परिणाम मिले या नहीं। यह एक ऐसी स्थिति है जिसमें शरीर थकने लगता है और बीमारियों की कतार लग जाती है। अपने दिनभर के कामों को इस तरह व्यवस्थित बनाएं कि थकान आज व आने वाले कल पर भारी न पड़े।

आप 'थकान' उतारना जानते हैं : यदि आप 7 या उससे ज्यादा सवालों से असहमत हैं तो यकीनन समझ आता है कि आप अपने कामों और सेहत में दुश्मनी नहीं करवाते। आपकी दिनचर्या, आदतें और व्यवहार में एक अनुशासन है इसलिए आप अनचाही थकान से बचे रहते हैं। यही कारण है कि आप दूसरों की तुलना में ज्यादा सक्रिय और उपयोगी भी हैं।




from Patrika : India's Leading Hindi News Portal
आगे पढ़े ----पत्रिका

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here