बांग्लादेश में बीएनपी-जमात के शासन में हुई कई पत्रकारों की हत्या - social Gyan

Post Top Ad

Responsive Ads Here

बांग्लादेश में बीएनपी-जमात के शासन में हुई कई पत्रकारों की हत्या

Share This

ढाका। बांग्लादेश में बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी- (जमात) के शासनकाल में कई पत्रकारों की हत्या होने के कई मामले सामने आए हैं।ढाका विश्वविद्यालय के प्रोफेसर अबू मोहम्मद शफीउल आलम भुंईया ने रविवार को एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि वर्ष 2000 से लेकर अब तक 20 पत्रकारों की हत्या की जा चुकी है, जिनमें से 14 पत्रकारों की हत्या वर्ष 2000 से 2006 के बीच हुई है। प्रोफेसर आलम ने कहा कि हत्या के इन मामलों की जांच आगे नहीं बढ पा रही है।

इंडोनेशिया में सुनामी ने मचाया तांडव, अब तक 168 लोगों की मौत, 745 घायल

वहीं खुलना के पत्रकार गोरंग नंदी के अनुसार वर्ष 2002 से लेकर 2005 तक का समय दक्षिण-पश्चिमी क्षेत्र में पत्रकारों के लिए काले अध्याय के रूप में याद किया जाता है।उन्होंने कहा कि कई पत्रकारों को तो खुलना छोड़कर भागना पड़ा और ढाका मेंं शरण लेनी पड़ी थी, वहीं माणिक साहा, हुमांयू कबीर बालू, गौतम दास, हारुन -उर-राशिद, शुकुर हुसैन और बेलालुद्दीन जैसे बड़े पत्रकारों की हत्या के चर्चे सबसे ज्यादा रहे।

प्रोफेसर भुंईया ने कहा कि लंबी कानूनी प्रक्रिया तथा सबूतों और गवाहों की कमी का होना न्याय मिलने में देरी का कारण है, साथ ही उन्होेंने पत्रकारों की हत्याओं की जाँच के लिए विशेष न्यायाधिकरण के गठन करने की मांग की। बांग्लादेश पत्रकार संघ के पूर्व अध्यक्ष मोंजुरुल एहसान बुलबुल ने वर्ष 2001, 2005 और 2006 के दिनों को याद करते हुए पत्रकारों की हत्याओं को लेकर चिंता जताई।

पाक की कोर्ट शरीफ के खिलाफ भ्रष्टाचार के दो मामलों में सोमवार को सुनाएगी फैसला

उन्होंने मौजूदा शेख हसीना सरकार की भी जमकर आलोचना की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री शेख हसीना के आश्वासन के बाद भी सरकार इन हत्याओं की जाँच को आगे नहीं बढ़ा रही है, जिससे न्याय मिलने में देरी हो रही है। ढाका विश्वविद्यालय के प्रोफेसर शखावत अली खान ने पत्रकारों के समूह के विभाजन को लेकर भी अपनी बात रखी।पत्रकार बालू के पुत्र अश्कि कबीर ने अपने पिता को याद करते हुए कहा कि 2004 में जब उनके पिता की हत्या की गई तो वे सिर्फ 13 साल के थे, उनके पिता की हत्या उनकी मां के देहांत के 3 साल बाद की गई। -एजेंसी

मोदी को दिखाएंगे कि अल्पसंख्यकों से कैसे व्यवहार करते हैं: इमरान खान

इंडोनेशिया में सुनामी से 43 की मौत, 584 घायल




from International - samacharjagat.com
आगे पढ़े -समचरजगत

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here