संबंध बनाने को मना करने पर भडका 15 वर्षीय लड़का, फिर किया ये घिनौना काम  - social Gyan

Post Top Ad

Responsive Ads Here

संबंध बनाने को मना करने पर भडका 15 वर्षीय लड़का, फिर किया ये घिनौना काम 

Share This

मुंबई। मुंबई के उपनगर अंधेरी के साकीनाका इलाके में संबंध बनाने के लिए मना करने पर एक 15 साल के नाबालिग ने 10वर्षीय लड़के की कथित रूप से हत्या कर दी। पुलिस ने रविवार को बताया कि आरोपी ने शव को एक सूटकेस में रखा और सबूत मिटाने के लिए उसे एक नाले में फेंक दिया।

उन्होंने बताया कि शव को बरामद कर लिया गया है। घटना शुक्रवार को लालबहादुर शास्त्री नगर इलाके में घटी। एक अधिकारी ने बताया कि घटना तब सामने आई जब लड़के के पिता और पेशे से कबाड़ कारोबारी ने स्थानीय पुलिस को गुमशुदगी की शिकायत की।

शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया कि उन्हें एक अज्ञात व्यक्ति ने फोन कर कहा है कि उसने उनके बेटे को अगवा कर लिया है और उसे छोड़ने के लिए पांच लाख रुपये की फिरौती मांग रहा है। शिकायतकर्ता ने कहा कि उसने अपने बेटे को शुक्रवार शाम उसके नाबालिग दोस्त के साथ देखा था।

पुलिस ने नाबालिग को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया। साकीनाका थाने के वरिष्ठ निरीक्षक किशोर सावंत ने कहा कि पूरा मामला तब सुलझ गया जब पुलिस को वो सिम कार्ड बरामद हुआ जिसका इस्तेमाल उगाही के लिए फोन करने के लिए किया गया था और यह फकरुद्दीन चौधरी के नाम पर पंजीकृत था।

सावंत के मुताबिक चौधरी ने पुलिस को बताया कि उनका 15 वर्षीय बेटा सिम कार्ड इस्तेमाल कर रहा है। पूछताछ में 15 वर्षीय नाबालिग ने बताया कि उसने कबाड़ कारोबारी को फिरौती के लिए कॉल की थी और ऐसा उसने एक दोस्त के कहने पर किया था जिसे पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

उन्होंने कहा कि इसके बाद आरोपी ने 10वर्षीय लड़के की हत्या करने की बात मान ली क्योंकि लड़के ने उसके साथ सेक्स करने से मना कर दिया था। पुलिस अधिकारी के मुताबिक किशोर आरोपी ने एक सार्वजनिक शौचालय में ले जाकर इस वर्षीय बच्चे का गला दबा दिया और शव को सूटकेस में बंद कर उसे साकीनाका में एक नाले में फेंक दिया।

पुलिस के मुताबिक, आरोपी और चौधरी के बेटे को किशोर अदालत में पेश किया गया। उन्होंने बताया कि किशोर अदालत ने उन्हें डोंगरी बाल गृह भेज दिया है। मामले में आगे जांच जारी है।




from Crime - samacharjagat.com
आगे पढ़े -समचरजगत

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here