Lastest Post

Tuesday, November 13, 2018

रमानी के आरोपों से अकबर की प्रतिष्ठा को चोट पहुंची: पूर्व सहयोगी

नई दिल्ली। पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ आपराधिक मानहानि का मुकदमा दायर करने वाले पूर्व केन्द्रीय मंत्री एमजे अकबर की एक पूर्व महिला सहयोगी ने सोमवार को दिल्ली की एक कोर्ट में कहा कि यौन उत्पीड़न के आरोपों के कारण अकबर की प्रतिष्ठा को अपूरणीय क्षति और नुकसान पहुंचा है।

अकबर के पक्ष में गवाह के रूप में पेश हुई संडे गार्डियन की संपादक जोइता बसु ने अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल से कहा कि रमानी ने अकबर की प्रतिष्ठा और साख को नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से जानबूझकर सभी ट्वीट किए।

बसु ने अदालत से कहा कि मैंने 10 अक्टूबर 2018 और 13 अक्टूबर 2013 के प्रिया रमानी के ट्वीट देखे हैं। मुझे कई संदेह हैं लेकिन मैं जानती हूं कि लोगों के कई सवाल हैं, मुझे व्यक्तिगत रूप से लगता है कि उनकी प्रतिष्ठा को अपूरणीय क्षति और नुकसान पहुंचा है।

उन्होंने कहा कि रमानी के इन ट्वीट को पढ़ने के बाद, मुझे लगता है कि मानहानि की गई है और समाज की नजरों में अकबर की अच्छी प्रतिष्ठा और साख को नुकसान पहुंचाने की मंशा से रमानी द्बारा जानबूझकर ट्वीट किए गए। पत्रकार ने कहा कि उन्होंने 20 वर्ष अकबर के साथ काम किया है और जिस संस्थान में उन्होंने काम किया उनके कर्मियों से कोई अप्रिय बात नहीं सुनी।

वे सार्वजनिक हस्ती हैं जिनकी अच्छी खासी प्रतिष्ठा है। बसु ने कहा कि मैंने मिस्टर अकबर को हमेशा बहुत सम्मान दिया है। वह मेरे साथ संबंधों में पूरी तरह से पेशेवर रहे हैं। वे हमेशा कठोर परिश्रम कराने वाले, पूरी तरह से पेशेवर और शानदार शिक्षक रहे हैं।

उन्होंने कहा कि वह उन्हें (अकबर) शानदार पत्रकार, एक विद्बान लेखक और भद्र व्यक्ति मानती हैं जिनकी बेदाग प्रतिष्ठा है। बसु ने कहा कि वह अकबर के खिलाफ रमानी के ट्वीट देखकर हैरान, निराश और शर्मिंदा हैं और उनके साथ मेरे अनुभव के बावजूद, इन ट्वीट, लेख को पढ़कर मेरी आंखों में उनकी छवि, उनकी प्रतिष्ठा को गंभीर नुकसान पहुंचा है।

उन्होंने कहा कि मित्रों और सहयोगियों के साथ मेरी बातचीत के दौरान यह और बढ़ गया जिन्होंने बड़े पैमाने पर प्रचारित ट्वीटों और लेखों के बारे में पढ़ा और सुना और मुझसे पूछा कि क्या वह सच में ऐसे हैं? उन्होंने उनके चरित्र पर सवाल खड़े किए और कहा कि उनकी छवि को गंभीर नुकसान पहुंचा है और उनकी नजरों में इसमें कमी आई है।

उन्होंने कहा कि जहां तक उनकी बात है तो उनकी छवि को स्थायी रूप से चोट पहुंची है। कोर्ट ने इस मामले में आगे की सुनवाई के लिए 7 दिसंबर की तारीख तय की। रमानी ने अकबर पर करीब 20 वर्ष पहले यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। अकबर ने 17 अक्टूबर को मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने अदालत से कहा था कि उन पर यौन उत्पीड़न के मनगढंत और झूठे आरोपों से उनकी छवि को नुकसान पहुंचा है।




from National - samacharjagat.com
आगे पढ़े -समचरजगत

Weight loss - अपनाएं ये खास टिप्स हरदम रहेंगे फिट

आजकल की व्यस्त दिनचर्या के कारण आमताैर पर कर्इ लाेग असमय ही माेटापे से ग्रसित हाे जाते हैं। जाे दिन ब दिन बढ़ता ही चला जाता है।अगर इसे समय रहते न राेका जाए ताे आगे जाकर यह गंभीर बीमारी में तब्दील हाे सकता है। आज हम आपकाे बताने जा रहे हैं। कुछ एेसे खास टिप्स जिन्हें अपनाकर आप फिट रह सकते हैं :-

सुबह जरूर करें नाश्ता
इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि सुबह का नाश्ता कभी न छोड़ें। सुबह उठने के 2 घंटे के भीतर ही नाश्ता करें। बहुत से लोग है जो सुबह का नाश्ता छोड़ देते है, ताकि वजन कम किया जा सकें लेकिन यह बिल्कुल गलत तरीका है।

प्रतिदिन 100 कैलोरी करें कम
2 सप्ताह में शरीर में सें वसा के 2 पाउंड निकालने के लिए रोजाना 100 कैलोरी कम करनी चाहिए। सख्त डाइट और फास्ट रखने से अधिक कैलोरी कम की जा सकती है। इससे एनर्जी लेवल भी बढ़ता है। अगर अधिक वसा वाले खाद्य पदार्थ खा रहे हों तो उसकी जगह कम वसा वाले पदार्थ लेना शुरू करें।

प्रोटीन घटाए वजन
प्रोटीन मांसपेशियों के लिए जरूरी और वजन घटाने में काफी कारगर है, लेकिन ध्यान रखें कि सभी प्रोटीन के बजाएं, हमेशा पतला प्रोटीन चुनें। यह वसा की मात्रा में वृद्धि कम करता है। इसलिए प्रोटीन लेने के लिए मछली, पोल्ट्री और अंडे अन्य आदि का सेवन करें।

लें अच्छी डाइट
आपका भोजन इन चार श्रेणियों- ब्रैड, अनाज और अनाज से बना होना चाहिए। इसके अलावा अपनी डाइट में फल और सब्जियां, कम वसा वाले डेयरी प्रॉडक्ट्स, पतला मीट, मछली और नट्स प्रोटीन से भरपूर चीजें शामिल होनी चाहिए।

खाएं फल और साबुत अनाज
अगर वजन तेजी से घटाना चाहते है तो फल,वेजीस और साबित अनाज का अधिक सेवन करें। इसके अलावा कम फाइबर और कम खाना खाएं।




from Patrika : India's Leading Hindi News Portal
आगे पढ़े ----पत्रिका

शरीर काे तुरंत ऊर्जा देता है चीकू, रखता है एक दम फिट

चीकू एक बेहतरीन फल है। इसमें ग्लूकोज भरपूर मात्रा में होता है, यह शरीर को तुरंत ऊर्जा देता है। जो लोग रोजाना व्यायाम और कसरत करते हैं, उन्हें एनर्जी की बहुत जरूरत होती है इसलिए उन्हें चीकू खाना चाहिए।

- कार्बोहाइड्रेट और आवश्यक पोषक तत्वों की अधिक मात्रा होने से यह गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए फायदेमंद होता है। यह प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाली कमजोरी, चक्कर व जी घबराने की समस्या को भी दूर करता है।

- पानी में चीकू को उबाल कर बनाए गए काढ़े को पीने से दस्त ठीक हो जाते हैं। यह कब्ज और एनीमिया जैसी बीमारियोंं से बचाता है, साथ ही हृदय और गुर्दे के रोगों को भी होने से रोकता है। चीकू के बीज को पीस कर खाने से गुर्दे की पथरी पेशाब के रास्ते निकल आती है।

- चीकू में विटामिन ए और बी अच्छी मात्रा पाया जाता है, और इसमें एंटीऑक्सिडेंट, फाइबर और अन्य पोषक तत्व भी पाए जाते हैं जो जो कैंसर से बचाता है। विटामिन ए फेफड़ों और मुँह के कैंसर से बचाता है।

- चीकू में विटामिन ए अच्छी मात्रा में पाया जाता है जिसकी वजह से बुढ़ापे में होने वाली आखों की समस्यों को भी दूर किया जा सकता है।




from Patrika : India's Leading Hindi News Portal
आगे पढ़े ----पत्रिका

मोहम्मद शमी इस तरह से कर रहे हैं ऑस्ट्रेलिया दौरे की तैयारियां

कोलकाता। भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ऑस्ट्रेलिया दौरे की तैयारियों में जुट गए हैं। ऑस्टेलिया दौरे की तैयारियों के लिए भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी वीडियो देकर कर अपनी तैयारी कर रहे हैं। मीडिया रिपोट्र्स से प्राप्त जानकारी के अनुसार भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने सोमवार को कहा है कि वह अपने प्रतिद्वंद्वियों के वीडियो देखकर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली सीरीज की तैयारी कर रहे हैं।

युवा मुक्केबाज सबसे बड़ी चुनौती, लेकिन मैं तैयार हूं : मेरीकोम

भारतीय तेज गेंदबाजों ने इंग्लैंड में अच्छा प्रदर्शन किया था लेकिन बल्लेबाज नहीं चले थे और टीम को 1-4 से हार का सामना करना पड़ा था। भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने पत्रकारों से कहा है कि जहां तक तेज गेंदबाजों का सवाल है तो हमने इंग्लैंड में अच्छा प्रदर्शन किया था। हम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज की तैयारी कर रहे हैं और कई तरह के वीडियो देख रहे हैं।

कोहली की प्रशंसक को भारत से चले जाओ टिप्पणी पर विश्वनाथ आनंद ने कही ये बड़ी बात!

भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने कहा है कि हमारी रणनीति जितना संभव हो इस सीरीज पर ध्यान देने का है क्योंकि हमारा प्रतिद्वंद्वी काफी मजबूत है। हम अपनी लाइन एवं लेंथ सही करने के लिए काम करेंगे।

भारत और न्यूजीलैंड सीरीज से पहले ये मानते हैं मिशेल सैंटनर

भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर की गैरमौजूदगी के बारे में कहा है कि अगर वे नहीं खेलते है। तो निश्चित तौर पर उनकी टीम कमजोर होगी लेकिन आखिर में आपको अपनी रणनीति के हिसाब से चलना होता है और अपने मजबूत पक्षों पर काम करना होता है।




from Sports - samacharjagat.com
आगे पढ़े -समचरजगत

युवा मुक्केबाज सबसे बड़ी चुनौती, लेकिन मैं तैयार हूं : मेरीकोम

नयी दिल्ली। विश्व चैंपियनशिप में छठा स्वर्ण पदक जीतने की कवायद में लगी मशहूर मुक्केबाज एमसी मेरीकोम ने सोमवार को कहा कि वह युवा मुक्केबाजों की कड़ी चुनौती से पार पाने के लिये अपने अनुभव और ऊ$र्जा का इस्तेमाल करेगी।

पैंतीस वर्षीय मेरीकोम बुधवार से यहां शुरू होने वाली विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में सातवीं बार हिस्सा लेगी। वह पांच बार की विश्व चैंपियन, ओलंपिक कांस्य पदक विजेता और एशियाई खेलों की स्वर्ण पदक विजेता के रूप में भरग पर उतरेगी।

मेरीकोम ने टूर्नामेंट से पहले पत्रकारों से कहा मेरे वर्ग में ऐसी मुक्केबाज हैं जो 2001 से अब भी खेल रही हैं। मैं उन्हें अच्छी तरह से जानती हूं। नये मुक्केबाज अधिक दमदार और स्मार्ट हैं और वे चपल भी हैं। मैं अपने अनुभव का इस्तेमाल करूंगी। पुराने मुक्केबाज अधिकतर एक जैसे हैं और मैं उन्हें जानती हूं।

उन्होंने कहा मुझे तीन राउंड तक खेलने के लिये ऊर्जावान बने रहने होगा। यह केवल एक राउंड का मामला नहीं है और इसलिए हमें उस हिसाब से रणनीति बनानी होगी। बारह देशों के मुक्केबाज टूर्नामेंट शुरू होने से सात दिन पहले ही यहां पहुंच गये थे। एजेंसी




from Sports - samacharjagat.com
आगे पढ़े -समचरजगत

कोहली की प्रशंसक को भारत से चले जाओ टिप्पणी पर विश्वनाथ आनंद ने कही ये बड़ी बात!

कोलकाता। पांच बार के पूर्व विश्व चैंपियन विश्वनाथन आनंद का मानना है कि सोशल मीडिया पर एक प्रशंसक के लिए भारत से चले जाओ टिप्पणी करने के दौरान भारतीय कप्तान विराट कोहली भावुक हो गए और नियंत्रण खो बैठे। कोहली की इस टिप्पणी के बाद बड़ा विवाद हो गया था और भारतीय कप्तान को सोशल मीडिया पर ट्रोल पर सामना करना पड़ा था।

भारत और न्यूजीलैंड सीरीज से पहले ये मानते हैं मिशेल सैंटनर

प्रशंसक ने इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों की तारीफ करते हुए कोहली को जरूरत से अधिक तवज्जो देने की बात कही थी जिस पर भारतीय कप्तान ने कहा था कि मुझे नहीं लगता कि आपको भारत में रहना चाहिए। भारत के महान खिलाडिय़ों में से एक आनंद ने यहां टाटा स्टील शतरंज के दौरान एक समाचार एजेंसी से कहा कि मुझे लगता है कि उसने नियंत्रण खो दिया। वह थोड़ा भावुक हो गया और उसने वह बोल दिया जो सबसे पहले उसके दिमाग में आया। उन्होंने कहा है कि इसी रवैये के साथ वह सहज है।

कुलदीप ICC टी-20 में करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर

खेल में आपको सभी तरह के चरित्र मिलते हैं और यह वह चरित्र है जो उसके सबसे अनुकूल है। दिग्गज शतरंज खिलाड़ी आनंद ने हालांकि कहा कि इस मामले पर पहले ही काफी कुछ लिखा जा चुका है और बेहतर है कि इस बारे में अधिक नहीं बोला जाए। आनंद ने कहा है कि शायद कोहली कमजोर लम्हे में घिर गया या वह अपने सर्वश्रेष्ठ मूड में नहीं था।

पीवी सिंधू की नजरें हांगकांग ओपन के खिताब पर

यह मेरा नजरिया है। इसके बाद उसने नियंत्रण खो दिया। आनंद ने कहा कि भावुक हो जाना स्वाभाविक है और कभी कभी वह भी नियंत्रण खो देते हैं। उन्होंने कहा है कि लोग भावुक होते हैं और कभी-कभी नियंत्रण खो देते हैं। मेरे साथ भी ऐसा हुआ है फिर भले ही मैच इसे छिपाने में अधिक सफल रहा हूं। लेकिन ऐसा लम्हा भी आता है जब आप पर भावनाएं हावी हो जाती हैं।




from Sports - samacharjagat.com
आगे पढ़े -समचरजगत

भारत और न्यूजीलैंड सीरीज से पहले ये मानते हैं मिशेल सैंटनर

मुंबई। न्यूजीलैंड के बायें हाथ के स्पिनर मिशेल सैंटनर का मानना है कि भारत के खिलाफ उनके देश में होने वाली सीमित ओवरों की आगामी सीरीज में मैदान और विकेटों की प्रकृति को देखते हुए बड़े स्कोर बनेंगे। भारत ने आखिरी बार 2014-15 में न्यूजीलैंड का दौरा किया था। वह पांच मैचों की वनडे सीरीज के लिए न्यूजीलैंड दौरे पर जाएगा जिसका पहला मैच 23 जनवरी को नेपियर में खेला जाएगा। इसके बाद तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों की सीरीज होगी।

कुलदीप ICC टी-20 में करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिग पर

सैंटनर ने कहा है कि तब (2014 के दौरे) से दोनों टीमों में काफी बदलाव आ गया है। भारत ने इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में अच्छा प्रदर्शन किया जहां की परिस्थितियां न्यूजीलैंड की तरह ही है। यह इस निर्भर करेगा कि वे परिस्थितियों से कितनी जल्दी सामंजस्य बिठाते हैं। उन्होंने कहा है कि अगर वे परिस्थितियों से तालमेल बिठा लेते हैं तो यह काफी रोमांचक सीरीज होगी।

पीवी सिंधू की नजरें हांगकांग ओपन के खिताब पर

मैदान और विकेटों की प्रकृति को देखते हुए इसमें बड़े स्कोर बन सकते हैं। इस अवसर पर मौजूद आलराउंडर कोरे एंडरसन ने कहा कि वह न्यूजीलैंड की विश्व कप 2019 टीम का हिस्सा बनना चाहते हैं।

बार्सीलोना दो साल में पहली बार घरेलू मैदान पर हारा

उन्होंने कहा है कि अगर मैं फिट रहा तो टीम का हिस्सा (विश्व कप के लिए) बनना चाहूंगा। मुझे पिछले विश्व कप में खेलने का अनुभव है। अगर मैं अपनी सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में रहा तो न्यूजीलैंड के लिए अच्छी भूमिका निभा सकता हूं और उसे संतुलन प्रदान करने में मदद कर सकता हूं।




from Sports - samacharjagat.com
आगे पढ़े -समचरजगत